Uddhav Thackeray attack s Governor bhagat singh koshyari Read five big news of this evening – India Hindi News


महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरेके पास से सत्ता जानेके बाद अब अगली चुनौती बीएमसी चुनाव है। बृहन्नमुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (BMC) के लिए उद्धव सेना और भाजपा दोनों ही उत्तर भारतीयों को रिझाने में कसर नहीं छोड़ रहे हैं। बता दें कि देश के सबसे धनवान नगर निगम बीएमसी का संचालन पिछले दो दशक से शिवसेना कर रही है। ऐसे में उद्धव सेना के लिए बीएमसी चुनाव नाक का सवाल बना हुआ है। उत्तर भारतीयों का विरोध करने वाली और मुंबई से भगाने वाली शिवसेना अब उत्तर भारतीयों के वोट पर ही नजर गड़ाए हुए हैं। इसी उद्देश्य से आदित्य ठाकरे ने पटना जाकर तेजस्वी यादव से मुलाकात की। अब देखना यह है कि इसका कितना फायदा उद्धव गुट को मिलेगा। एक अनुमान के मतुाबिक मुंबई में उत्तर भारत के करीब 50 लाख लोग हैं। पढ़ें आज शाम की पांच बड़ी खबरें-

उद्धव ने राज्यपाल कोश्यारी को बताया ‘अमेजॉन पार्सल’, वृद्धाश्रम भेजने की मांग

शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे ने छत्रपती शिवाजी महाराज को लेकर दिए गए कथित विवादित बयान पर महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने राज्यपाल को केंद्र द्वारा भेजा गया ‘अमेजॉन पार्सल’ करार दिया। राज्यपाल के हालिया बयान पर अपनी भड़ास निकालते हुए महाराष्ट्र के पूर्व सीएम ने कहा, “मैं केंद्र सरकार से अनुरोध करता हूं कि आपने जो राज्यपाल के रूप में हमें अमेजॉन पार्सल भेजा है उसे वापस ले लो।” शिवसेना नेता ने यह भी कहा कि उन्हें किसी वृद्धाश्रम भेजा जाना चाहिए। उद्धव ठाकरे ने इसी बहाने सीएम एकनाथ शिंदे पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, “छत्रपति शिवाजी महाराज का अपमान किया जा रहा है और सरकार खामोश बैठी है। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।

पायलट पर क्यों अचानक फट पड़े अशोक गहलोत; इनसाइड स्टोरी

राजस्थान की राजनीति में एक बार फिर घमासान के आसार बन गए हैं। कुछ दिनों की शांति के बाद जिस तरह मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर सचिन पायलट के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है उससे कांग्रेस में उठापटक तय माना जा रहा है। गहलोत ने पूर्व उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष रहे सचिन पायलट को गद्दार कहते हुए साफ कर दिया है कि वह उन्हें कभी मुख्यमंत्री स्वीकार नहीं कर सकते हैं। लेकिन आखिर अचानक ऐसा क्या हो गया कि सोनिया गांधी से माफी मांगने के बाद से चुप्पी साधे रहे गहलोत फट पड़े? गुजरात चुनाव में कांग्रेस के अभियान की बागडोर संभाल रहे गहलोत को अचानक इस तरह आक्रामक होने की जरूरत क्यों पड़ी? राजनीतिक जानकार वजहें तलाशने में जुट गए हैं। गहलोत ने पायलट पर बयानों की बमबारी ऐसे समय पर की है,जब राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मध्य प्रदेश से गुजरते हुए राजस्थान की ओर बढ़ रही है। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।

जामा मस्जिद विवाद में LG नेदी दखल, महिलाओं पर बैन वाला फरमान लिया गया वापस

दिल्ली की ऐतिहासिक जामा मस्जिद मेंअकेली लड़कियों के प्रवेश पर प्रतिबंध के मामले में विवाद बढ़ता जा रहा है। अब इस मामले में दिल्ली एलजी की एंट्री एं हो गई है। सूत्रों की मानें तो दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने जामा मस्जिद के शाही इमाम बुखारी से बात की। साथ ही उन्होंने लड़कियों के प्रवेश को प्रतिबंधित करने वाले आदेश को रद्द करने का निर्देश दिया। बताया जा रहा है कि इमाम बुखारी ने उपराज्यपाल के आदेश को पर सहमति जताई है। साथ में मस्जिद की पवित्रता का सम्मान बनाए रखने का अनुरोध भी किया है। दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने इसे महिलाओं के अधिकारों का उल्लंघन बताते हुए कहा कि वह नोटिस जारी कर रही हैं, वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग के सूत्रों नेकहा कि उसने मामले का स्वत: संज्ञान लिया हैऔर कार्रवाई के बारे में फैसला कर रहा है। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर-

गलवान वाले ट्वीट पर बुरी फंसी ऋचा चड्ढा, बवाल के बाद मांगनी पड़ी माफ

बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा को सेना का मजाक उड़ाना महंगा पड़ा। गलवान को लेकर उन्होंनेएक ट्वीट किया था। इसके बाद सोशल मीडिया पर उनकी जमकर ट्रोलिंग और विरोध हुआ। ऋचा के खिलाफ दिल्ली पुलिस की साइबर सेल में शिकायत भी दर्ज करवाई है। इसके बाद ऋचा नेन केवल ट्वीट डिलीट किया बल्कि लंबा सा नोट शेयर करके माफी भी मांगी है। उन्होंने उत्तरी सेना के कमांडर लेफ्टि नेट जनरल उपेंद्र द्विवेदी के एक बयान को रीट्वीट करके कमेंट किया था। जनरल द्विवेदी नेकहा था कि वह पाकिस्तान से Pok वापस लेनेके लिए पूरी तरह तैयार हैं। ऋचा नेइस पर गलवान की याद दिलाई थी। बवाल बढ़ने के बाद ऋचा ने माफी मांगी हैऔर लिखा है कि उनकी मंशा ऐसी नहीं थी। उन्होंने लिखा है कि वह सेना का कभी मजाक नहीं उड़ा सकती हैं क्योंकि उनके अपनेलोग देश के लिए जान दे चुके हैं। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।

खत्म हो जाएगा केन विलियमसन का आईपीएल करियर? सवाल पर दिया ऐसा जवाब

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन को सनराइजर्स हैदराबाद ने आगामी सीजन से पहले रिलीज कर दिया है। फैंस के लिए फ्रेंचाइजी द्वारा लिया गया ये फैसला थोड़ा चौंकाने वाला था, क्योंकि टीम ने पिछले साल मेगा नीलामी से पहले केन विलियमसन को पहली पसंद के रूप मेंटीम मेंरिटेन किया था। हालांकि केन विलियमसन के नेतृत्व मेंटीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा और आईपीएल 2022 में 10 टीमों की लीग में आठवें स्थान पर रही। केन विलियमसन 23 दिसंबर को कोच्चि में होनेवाली मिनी नीलामी मेंअपनी किस्मत आजमाएंगे एं । भारत के खिलाफ वनडे सीरीज की पूर्वसंध्या पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विलियमसन ने आगामी नीलामी में उन पर बोली लगेगी या नहीं के सवाल पर कीवी कप्तान नेअच्छा जवाब दिया है। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।



Credit : https://livehindustan.com

Related Articles

Latest Articles

Top News