Congress asks Assam chief to send names of absentees from Bharat Jodo Yatra Assam – India Hindi News – ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल ना होने वालों को सजा देगी कांग्रेस? असम पार्टी प्रमुख से कहा


कांग्रेस पार्टी की राज्य इकाइयों में जारी कलह थमने का नाम नहीं ले रही है। राजस्थान में जारी बवाल के बीच असम भी चर्चा में आ गया है। दरअसल कांग्रेस ने असम पार्टी प्रमुख से उन लोगों के नाम बताने को कहा है कि जो ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल नहीं हो रहे हैं। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) ने इस संबंध में एक पत्र लिखा है। इस पत्र के सामने आने के बाद असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी की आंतरिक कलह खुलकर सामने आ गई। पत्र से पता चला है कि राज्य के कई कांग्रेस नेता ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से खुद को दूर रखने का विकल्प चुन रहे हैं। 

एआईसीसी सदस्य और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जितेंद्र सिंह के हस्ताक्षर वाले पत्र में असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी (एपीसीसी) के अध्यक्ष भूपेन कुमार बोरा को उन पार्टी नेताओं की सूची तैयार करने का निर्देश दिया गया है, जिन्होंने असम में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में भाग नहीं लिया है। 

जितेंद्र सिंह ने पत्र में लिखा, “मैं समय-समय पर यात्रा में शामिल होता रहा हूं और देखा है कि असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कुछ पदाधिकारी, कार्यकारिणी सदस्य, डीसीसी, ब्लॉक अध्यक्ष, ओबी और नेताओं ने न तो इस यात्रा में भाग लिया है और न ही इस ऐतिहासिक मार्च को सफल बनाने के लिए कोई प्रयास किया है।” सिंह ने अपने पत्र में एपीसीसी अध्यक्ष को निर्देश दिया, “कृपया ऐसे पदाधिकारियों/कार्यकारी सदस्यों/नेताओं की एक सूची तैयार करें और 15 दिसंबर को यात्रा समाप्त होने के तुरंत बाद इसे जमा करें।”

एआईसीसी के पत्र का हवाला देते हुए, कांग्रेस की राज्य इकाई ने एपीसीसी के सभी नेताओं और कार्यकारी सदस्यों को एक पत्र जारी किया है। इस पत्र में कहा गया है कि एआईसीसी के महासचिव जितेंद्र सिंह और एपीसीसी अध्यक्ष बोरा चल रही ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में राज्य के कुछ पार्टी नेताओं की गैर-भागीदारी से संतुष्ट नहीं हैं।

एपीसीसी के महासचिव (प्रशासन) रमन्ना बरुआ द्वारा जारी एक पत्र में कहा गया, “अगर कोई किसी कारण से यात्रा में भाग नहीं लेता है, तो उसे लिखित में एपीसीसी अध्यक्ष को सूचित करना होगा।” एपीसीसी के कार्यकारी अध्यक्ष जाकिर हुसैन सिकदर ने एएनआई को बताया, “पार्टी के कुछ नेताओं, कार्यकारी सदस्यों और जिला स्तर के नेताओं ने यात्रा में भाग नहीं लिया है।”

सिकदर ने कहा, “यात्रा 1 नवंबर को धुबरी से शुरू हुई और गुरुवार को गोलाघाट पहुंची। हम चाहते हैं कि यह मार्च सफल हो। हम एआईसीसी के महासचिव जितेंद्र सिंह के भी आभारी हैं कि उन्होंने हमारे मार्च की शानदार सफलता की कामना की। हम निगरानी करेंगे कि एपीसीसी के सभी नेता या कार्यकारी सदस्य इस यात्रा को सफल बनाने के लिए काम कर रहे हैं या नहीं। आने वाले दिनों में नई असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी बनेगी और हमारे नेता इन बातों का ध्यान रखें।”

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और लोकसभा सांसद राहुल गांधी की चल रही ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से प्रेरित, ‘भारत जोड़ो यात्रा, असम’ का नेतृत्व बोरा कर रहे हैं, जिसमें राज्य के पार्टी नेता 70 दिनों में राज्य भर में 834 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करेंगे। 

 



Credit : https://livehindustan.com

Related Articles

Latest Articles

Top News