China objected India US Military exercise near LAC in Uttarakhand saying it violates border peace agreement – India Hindi News – LAC के पास भारत-US के संयुक्त युद्धाभ्यास पर चीन ने जताई आपत्ति, कहा


ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास चल रहे भारत-अमेरिका के सैन्य युद्धाभ्यास पर चीन ने आपत्ति जताई है और कहा है कि यह सीमा शांति के लिए द्विपक्षीय समझौतों की भावना का उल्लंघन है। भारत-चीन सीमा LAC से करीब 100 किलोमीटर के अंदर भारत-अमेरिका संयुक्त सैन्य युद्ध अभ्यास का 18वां संस्करण उत्तराखंड में चल रहा है। 

यह युद्धाभ्यास एक द्विपक्षीय ट्रेनिंग एक्सरसाइज है, जो 2004 से हर साल आयोजित किया जा रहा है। इसका उद्देश्य “भारत-प्रशांत क्षेत्र में पारंपरिक, जटिल और भविष्य की आकस्मिक दशा” के लिए भागीदारी क्षमता बढ़ाने के लिए भारतीय और अमेरिकी सेनाओं की अंतर-क्षमता में सुधार करना है।

बीजिंग में पाकिस्तानी समाचार एजेंसी के एक प्रश्न का जवाब देते हुए चीन के विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, “वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास भारत और अमेरिका द्वारा आयोजित संयुक्त सैन्य युद्ध अभ्यास ने 1993 और 1996 में चीन और भारत द्वारा हस्ताक्षरित प्रासंगिक समझौतों की भावना का उल्लंघन किया है और द्विपक्षीय विश्वास बनाने में असहयोग किया है। चीन ने सैन्य अभ्यास पर भारतीय पक्ष से चिंता व्यक्त की है।”

इससे पहले चीनी रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि बीजिंग इस अभ्यास को भारत-चीन सीमा मामलों में “तीसरे पक्ष” द्वारा दखल देने के प्रयास के रूप में देखता है, जो पूर्वी लद्दाख में चल रहे सैन्य गतिरोध की पृष्ठभूमि के खिलाफ हुआ है। इसके जवाब में भारतीय विदेश मंत्रालय ने यह कहकर प्रतिक्रिया दी है कि वह इस मामले में “तीसरे पक्ष” के संदर्भ को नहीं समझता है। MEA ने कहा कि चीन को पूर्वी लद्दाख में गतिरोध के संदर्भ में हुए द्विपक्षीय समझौतों पर टिके रहने की जरूरत है।

MEA प्रवक्ता ने कहा, “भारत-अमेरिका सैन्य अभ्यास पूरी तरह से अलग हैं, और मुझे नहीं पता कि वहां कौन सा रंग दिया गया है जो दोनों देशों को निशाना बना रहा है या मौजूदा समझौतों का उल्लंघन कर रहा है। मेरे पास ऐसी कोई सूचना नहीं है जिससे मैं इन तर्कों से सहमत हो सकूं।”



Credit : https://livehindustan.com

Related Articles

Latest Articles

Top News