azam khan emotional in rampur assembly election speech angry on youth after his smile – युवक के हंसने पर मंच से ही भड़क गए आजम खान, कहा


ऐप पर पढ़ें

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान इन दिनों बेहद तल्ख अंदाज में दिख रहे हैं। जेल से निकलने के बाद उन्हें राहत मिली थी, लेकिन हेट स्पीच के मामले में उनकी विधायकी जाने के बाद से फिर संकट गहरा गया है। आजम खान के तेवरों से भी यह परेशानी बयां हो रही है। अपनी सदस्यता जाने से खाली हुई रामपुर विधानसभा सीट के उपचुनाव में आजम खान ने ही प्रचार का बीड़ा उठाया है। वह रामपुर के अलग-अलग इलाकों में जाकर प्रचार कर रहे हैं और कई बार मंच से ही भावुक दिखते हैं तो कभी गुस्सा हो जाते हैं। 

ऐसा ही वाकया सोमवार देर रात भी हुआ, जब वह एक जनसभा को संबोधित करते हुए अपने ही एक समर्थक पर भड़क गए। दरअसल वह जब मंच से भावुकता भरा भाषण दे रहे थे तो उसी दौरान एक शख्स मंच पर ही किनारे खड़ा होकर हंस रहा था। इस पर आजम खान भड़क गए और कहा कि आप अपने पर हंस रहे हैं या हम पर हंस रहे हैं। आजम खान ने कहा, ‘हम पर कितना हंसोगे, हम पर तो दुनिया थूक रही है। हमसे ज्यादा बेशर्म और कौन हो सकता है। इतना सब गुजरने के बाद भी तुम्हारे अंदर हंसने की हिम्मत है तो मैं तुम्हें दाद दे सकता हूं।’

इसी दौरान आजम खान ने अपने बेटे अब्दुल्ला आजम की उम्र से जुड़े विवाद को लेकर कहा कि मैं कितना बदनसीब हूं कि अपने बेटे की ही उम्र साबित नहीं कर सका। उसे पैदा करने वाली मां अपने बेटे की उम्र नहीं बता पाई। मैं और मेरी औलाद अदालत के सामने अपनी बेगुनाही साबित नहीं कर सके। आजम खान ने इस दौरान अपना साथ छोड़कर भाजपा में जाने वाले करीबियों पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि मेरे एक करीबी ने भाजपा में जाने पर कहा कि आजम खान के यहां दरी नहीं बिछाएंगे। हमने तो उनके स्वागत में रेड कार्पेट बिछाया था, लेकिन अब वह भाजपा में दरी ही नहीं बल्कि चुनाव के बाद पोछा लगाएंगे।

गौरतलब है कि आजम खान चुनाव में बेहद सक्रिय हैं और रामपुर की गली-गली में प्रचार को निकले हैं। आजम खान ने पिछले दिनों अखिलेश और जयंत चौधरी के रामपुर दौरे पर भी तंज कसते हुए कहा था कि आखिर ये लोग रामपुर क्यों आ रहे हैं। यहां तो कोई चुनाव ही नहीं है। भाजपा के प्रत्याशी को ही चुनाव आयोग को जीता घोषित कर देना चाहिए। यही नहीं गुस्साए आजम खान एक सभा में यहां तक कह चुके हैं कि मैं इसलिए जिंदा हूं क्योंकि इस्लाम में खुदकुशी करना हराम है।



Credit : https://livehindustan.com

Related Articles

Latest Articles

Top News