Yoga Session: तमाम कोशिशों के बाद भी सही तरीके से नहीं लगता आसन, ध्‍यान? इस तरह करें अभ्यास


हाइलाइट्स

अपनी क्षमता के अनुसार योग और आसनों का अभ्‍यास करें.
अपनी आती-जाती सांस पर ध्‍यान लगाएं और गहरी सांस लें.

Yoga Session With Savita Yadav :  कई बार देखा गया है कि लोग 5 मिनट अनुलोम विलोम करने या प्राणायाम करने में भी मुश्किलों का सामना करने लगते हैं. इसके लिए जरूरी है कि पहले आप कुछ ध्‍यानात्‍मक योगों को करना सीखें और इसका अभ्‍यास करें. बता दें कि योगा थेरेपी के अंतरगत भी ध्‍यानात्‍मक योगाभ्‍यास कराया जाता है. जितने भी बैठकर करने वाले ध्‍यानात्‍मक आसान हैं वे आपके लिवर आदि अंगों के लिए काफी फायदेमंद होते हैं. अगर आप कुछ भी अभ्‍यास नहीं कर रहे हैं और एक जगह पर बैठकर सजगता के साथ लंबे समय तक स्‍वांस पर स्‍वांस लेते हैं तो ये भी आपके शरीर को कई तरह से फायदा पहुंचाता है. आज न्यूज़18 हिंदी के यूट्यूब लाइव सेशन में योगाचार्या सविता यादव (Savita Yadav) ने ध्‍यानात्‍मक आसनों की जानकारी दी.

इस तरह करें वॉर्मअप
सबसे पहले मैट पर अपने दोनों पैरों को आगे की तरफ सीधा रखें और पंजों को एक बार आगे और एक बार पीछे की तरफ स्‍ट्रेच करें. ऐसा 10 बार करें. अब दोनों पैरों के बीच गैप बनाएं और पंजों को एक बार अंदर की तरफ और एक बार बाहर की तरफ घुमाएं. अच्‍छी तरह सांस लेते रहें. ऐसा 10 बार करें.अब पंजों को घड़ी की तरह घुमाएं.  विस्‍तार से जानकारी हासिल करने के लिए आप नीचे दिए गए वीडियो लिंक पर क्लिक कर सकते हैं.

” isDesktop=”true” id=”5233009″ >

सुखासन
अपने दोनों पैरों को फोल्‍डकर मैट पर बैठें और अपनी कमर व गर्दन की सीधी रखें. अगर आप खाते वक्‍त जमीन पर बैठें और सुखासन में बैठकर खाएं तो आपको कई तरह से फायदा होगा.

इसे भी पढ़ें : कमर दर्द से छुटकारा दिलाएगा यह योगाभ्‍यास, हेल्थ को मिलेंगे कई फायदे

गौमुखआसन
गौमुखआसन आपके थाई मसल्‍स के लिए काफी अच्‍छा है. इससे मांसपेशियों में खिंचाव होता है और लचीलापन आता है. पहले एक पैर को फोल्‍ड करते हुए दूसरे पैर के थाई पर रखते हुए बैठें. अब जो पैर नीचे हैं उसे भी फोल्‍ड करें. कोशिश करें कि दोनों घुटना एक दूसरे के ऊपर हो. कमर गर्दन सीधी रखें और गहरी सांस लें. 10 तक की गिनती करते हुए ध्‍यान करें. अब दूसरे पैर से यह आसन बनाएं.

इसे भी पढ़ें : बीमारियों से राहत दिलाता है नियमित योगाभ्यास, ये आसन बेहद लाभकारी

वज्रासन
दोनों पैरों को आगे सीधाकर बैठ जाएं और एक एक कर पैरों को पीछे की ओर मोड़ते हुए एडि़यों पर बैठ जाएं. दोनों घुटने मिले हुए रहेंगे. अब सामने की तरफ नजर रखें और कमर गर्दन को सीधी रखें. यह आसन आपके डायजेशन को भी अच्‍छा करता है. इस मुद्रा में बैठकर आप ध्‍यान करें.

अर्धपद्मासन
अपने पैरों को मैट पर आगे की ओर फैला लें और एक पैर के पंजे को पकड़कर अपने दूसरे पैर के थाई पर रख लें. इससे आपके पैरों का लचीलापन बढ़ेगा और घुटने जमीन से सटने लगेंगे. अब इस मुद्रा में आप ध्‍यान करें. कुछ देर में अपने पैरों के पोजीशन को बदल सकते हैं.

पद्मासन
पैरों को आगे की ओर खोल लें और एक एक कर अपने पंजों को पकड़कर एक दूसरे पैरों की थाई पर रखें. ध्‍यान की मुद्रा बनाएं. हाथों की हथेलियां आसमान की तरफ रखें. कुछ देर बाद आप पैरों की पोजीशन को चेंज कर लें. विस्‍तार से देखने के लिए वीडियो लिंक पर क्लिक करें.

Tags: Advantages of yoga, Well being, Life-style, Yoga



Source link

Related Articles

Latest Articles

Top News