Common Disease in Children: 1 से 5 साल तक के बच्चों में ये 3 बीमारियां हैं सामान्य, ऐसे करें बचाव


हाइलाइट्स

छोटे बच्चों की इम्युनिटी बहुत कमजोर होती है. इसलिए बहुत जल्दी बीमार पड़ते हैं.
फूड इन्टोलेरेंस, इम्पेटिगो और वर्म्स बच्चों को होने वाली सामान्य बीमारियां हैं.
कुछ चीजों का ध्यान रख कर बच्चों को इनसे बचाया जा सकता है.

Widespread illness in Kids. माता-पिता बनाने के बाद जिंदगी पूरी तरह से बदल जाती है. आपका पूरा फोकस केवल अपने बच्चे पर होता है. अगर आप एक पैरेंट हैं , तो आपको पता ही होगा कि बच्चे की जिम्मेदारी कितनी बड़ी होती है. खासतौर पर अगर आपका बच्चा बीमार है, तो उसे संभालना बहुत मुश्किल हो जाता है. लेकिन, छोटे बच्चों की इम्युनिटी कमजोर होती है. ऐसे में उनका बार-बार बीमारी पड़ना स्वभाविक है, खासतौर पर मौसम के बदलने के साथ. यही नहीं, कुछ ऐसी बीमारियां भी हैं जो 1 से 5 साल तक के बच्चों को होना सामान्य है. जानिए कौन से हैं यह रोग और किस तरह से कर सकते हैं आप इन समस्याओं से अपने छोटे बच्चों का बचाव?

ये भी पढ़ें: सर्दियों में सेहत का रखें खास ख्याल, हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए डेली रूटीन में करें ये काम

1 से 5 साल तक के बच्चों में ये 3 बीमारियां हैं सामान्य
1 से 5 साल तक के बच्चों को यह तीन बीमारियां हो सकती हैं:
फूड इन्टोलेरेंसहेल्थलाइन के अनुसार हर पैरेंट को पता होता है कि उसका बच्चा खाने में नखरे कर सकता है खासतौर पर हेल्दी फूड खाने में. लेकिन, कुछ फूड्स को लेकर आपका बच्चा इन्टोलेरेंट भी हो सकता है. फूड इन्टोलेरेंस किसी खाद्य पदार्थों से होने वाला रिएक्शन है, जिसकी एक वजह यह हो सकती है कि रोगी का शरीर सही से फूड को ब्रेकडाउन न कर पा रहा हो. इसके लक्षण हैं डायरिया, पेट दर्द आदि. अगर आपका बच्चा फूड इन्टोलेरेंस है, तो उसे उस खास फूड को देने से बचें जिससे उसे यह समस्या हो सकती है और डॉक्टर की सलाह का पालन करें.

इम्पेटिगो- इम्पेटिगो 1 से 5 साल तक के बच्चों को होने वाली सबसे सामान्य और संक्रामक स्किन इंफेक्शन है. यह रोग बैक्टीरिया के कारण होता है. इस रोग को फैलने से बचाना सबसे अच्छा तरीका है बच्चे की स्किन को साफ रखना. बच्चे की स्किन को माइल्ड सोप से साफ करें और सफाई का ध्यान रखें.

ये भी पढ़ें: Momos के दीवानों हो जाएं सावधान! ज्यादा ‘मोमो प्रेम’ आपको कर सकता है बीमार, जानें इसके सबसे बड़े नुकसान

वर्म्स- वर्म्स के कारण होने वाले इंफेक्शन का अधिकतर कोई लक्षण नजर नहीं आता है. वर्म्स आसानी से फैलते हैं, इसलिए यह रोग बच्चे को बार-बार हो सकता है. इससे बचाव के लिए बच्चे की साफ-सफाई का ध्यान रखें. बच्चों को बार-बार मुंह में हाथ डालने से रोकें.

Tags: Kids, Well being, Life-style



Source link

Related Articles

Latest Articles

Top News