रोज खाएंगे ये फूड्स तो हो सकता है नुकसान भी, जानें आयुर्वेद किन चीजों को रोज खाने से करता है मना


हाइलाइट्स

आयुर्वेद में इस बात की सिफारिश की गई है कि रोज मांस और मछली का सेवन नहीं करना चाहिए
आयुर्वेद में अल्कलाइन फूड्स को भी हर रोज भोजन से शामिल करने की मनाही है.

Meals To Keep away from Consuming Each day As Per Ayurveda : सेहतमंद रहने के लिए हम हेल्‍दी डाइट (Food regimen) खाना पसंद करते हैं. खासतौर पर जिन फूड्स (Meals) में हाई प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन्‍स आदि हो उन्‍हें तो हम रोजाना (Each day) के डाइट में शामिल करना नेसेसरी समझते हैं. लेकिन आयुर्वेद (Ayurveda) में हेल्‍दी डाइट के अलग नियम बनाए गए हैं. आयुर्वेद के मुताबिक, कई ऐसे हेल्‍दी भोजन हैं  जिन्‍हें रोजाना खाना सेहत के लिए अच्‍छा नहीं होता. यही नही,अगर हम इन्‍हें रोज खाएं तो फायदा होने की बजाए हमें नुकसान भी हो सकता है. तो आइए जानते हैं कि आयुर्वेद में किन चीजों को रोजाना खानें से बचने की सलाह दी जाती है.

1.दही
हेल्‍दी ब्रेकफास्‍ट यानी कि प्‍लेट में दही को होना तय है. लेकिन आपको बता दे कि आयुर्वेद में यह सलाह दी जाती है कि रोजाना के डाइट में दही का प्रयोग नहीं करना चाहिए. खासतौर पर मॉनसून के सीजन में. विशेषज्ञों का कहना है कि अगर रोज दही का सेवन किया जाए तो सेहत खराब भी हो सकती है.

इसे भी पढ़ें : कभी पी है काली मिर्च की चाय? मूड बूस्‍ट करने के साथ वजन भी करती है कम

2.नॉनवेज

आयुर्वेद में इस बात की सिफारिश की गई है कि रोज मांस और मछली का सेवन नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से शरीर में कई तरह की समस्‍या हो सकती है. हालांकि विज्ञान में इस बात की कहीं भी जानकारी नहीं है और ना ही कोई शोध इस बात की सिफारिश करता है.

3.सुखौता यानी ड्राई वेजिटेबल
पूर्व भारत, दक्षिण भारत और उत्तर भारत में सब्जियों को धूप में सूखने की परंपरा है जिसे महीनों बाद भी खाने में प्रयोग किया जा सकता है. ऐसी सब्जियों को आयुर्वेद में रोज के डाइट में शामिल करने की मनाही है.

इसे भी पढ़ेंः सुबह की एक कप चाय में मिक्स करें ये 2 खास चीजें, इम्यूनिटी बूस्टर की तरह करेगा काम

4.अल्कलाइन फूड्स
आयुर्वेद में अल्कलाइन फूड्स को भी हर रोज भोजन से शामिल करने की मनाही है. आपको बता दें कि अल्‍कलाइन फूड्स के अंतरगत मांस, मिठाई, कैफीन आदि चीजें आती हैं. इन चीजों की बजाए सिजनल फल और सब्जियों को डाइट में शामिल करने की सलाह दी जाती है.  (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

 

 

Tags: Ayurvedic, Well being, Life-style



Source link

Related Articles

Latest Articles

Top News