तनाव कम करने के लिए करें ब्रीदिंग एक्सरसाइज, जानिए सही तरीका


हाइलाइट्स

तनाव एक गंभीर समस्या है.
ब्रीदिंग एक्सरसाइजेज तनाव से राहत पाने का अच्छा तरीका हैं.
तनाव से बचने के लिए आप डीप ब्रीदिंग, अनुलोम-विलोम और बॉक्स ब्रीदिंग जैसी एक्सरसाइजेज को ट्राय कर सकते हैं.

Respiratory workout routines for stress: तनाव एक गंभीर समस्या है. यह वो मूड डिसऑर्डर है जिसके कारण इंसान दुखी रहता है और हर काम में इंटरेस्ट खो देता है. इस बीमारी के कारण रोगी का रोजाना का जीवन प्रभावित होता है. ऐसा माना गया है कि ब्रीदिंग एक्सरसाइजेज तनाव से राहत पाने और स्ट्रेस रिस्पांस को रिवर्स करने का सबसे आसान और प्रभावी तरीका है. इन्हें अगर आप अपने जीवन का एक हिस्सा बना लेंगे तो आपको बहुत अधिक लाभ मिल सकता है. ब्रीदिंग एक्सरसाइज के कई प्रकार हैं, जिनमें से कुछ की आमतौर पर सलाह दी जाती है, जिनमें से कुछ यूनिक हैं. लेकिन, यह सभी एक्सरसाइजेज स्ट्रेस को मैनेज करने में मदद कर सकती हैं. तनाव से बचाव के लिए कैसे करें ब्रीदिंग एक्सरसाइजेज, जानिए

ये भी पढ़ें: सर्दियों में खूब पीएं नींबू पानी ! इम्यूनिटी होगी मजबूत और वजन रहेगा कंट्रोल, जानें चौंकाने वाली बातें

तनाव से बचाव के लिए ब्रीदिंग एक्सरसाइजेज
वेबएमडी (WebMD) के अनुसार अधिकतर ब्रीदिंग एक्सरसाइजेज में केवल कुछ ही मिनट लगते हैं. आप इन्हें दस मिनट्स तक कर सकते हैं या अधिक फायदे के लिए और भी ज्यादा समय के लिए कर सकते हैं. तनाव से बचाव के लिए ब्रीदिंग एक्सरसाइजेज इस प्रकार हैं:

डीप ब्रीदिंग: डीप ब्रीदिंग करने के लिए एक स्थान पर बैठ जाएं. पीठ सीधी रखें और अपने एक हाथ और अपनी चेस्ट व दूसरे को पेट पर रखें. अब नाक के माध्यम से गहरी सांस लें. 5 की गिनती तक अपनी सांस रोकें और फिर धीरे-धीरे सांस को बाहर छोड़ दें. इस एक्सरसाइज को करने से आप रिलेक्स महसूस करेंगे.

अनुलोम-विलोम: यह एक योगासन है, स्ट्रेस के अलावा इस एक्सरसाइज के कई और फायदे भी हैं. इस एक्सरसाइज को करने के लिए सबसे पहले एक जगह पर बैठ जाएं और अपनी पीठ सीधी रखें. अब एक हाथ की छोटी उंगली से नाक के एक छेद को बंद करें और दूसरे छेद यानी नॉस्ट्रिल से सांस को अंदर-बाहर लें. फिर दूसरे हाथ से इस प्रक्रिया को दोहराएं

ये भी पढ़ें: लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में बनाए रखना चाहते हैं प्यार तो इन टिप्स को अपनाना न भूलें

बॉक्स ब्रीदिंग: इस एक्सरसाइज को करने के लिए आप या तो कुर्सी पर बैठ जाएं या जमीन पर लेट जाएं. अब चार सेकंड्स की गिनती के साथ गहरी सांस को अंदर लें. इसके बाद चार सेकण्ड के लिए सांस को रोक के रखें. फिर, चार सेकण्ड की गिनती में धीरे-धीरे सांस बाहर छोड़ें. इसमें भी सांस छोड़ते हुए कुछ सेकंड के लिए इसे रोक कर रखें और इस एक्सरसाइज को दोहराएं.
इन ब्रीदिंग एक्सरसाइज को आप आसानी से कर सकते हैं, लेकिन ध्यान रखें गलत तरह से एक्सरसाइज करने पर नुकसान भी हो सकता है. इसलिए एक्सपर्ट से सलाह लेकर ही एक्सरसाइज करें.

Tags: Well being, Life-style



Source link

Related Articles

Latest Articles

Top News