जानिए क्या है सिचुएशनल डिप्रेशन के कारण, लक्षण और उपचार


हाइलाइट्स

सिचुएशनल डिप्रेशन किसी भी स्ट्रेसफुल इवेंट के बाद लगभग 90 दिनों के लिए होता है.
मन में आत्महत्या के विचार का आना सिचुएशनल डिप्रेशन का लक्षण हो सकता है.
किसी अपने को हमेशा के लिए खो देना सिचुएशनल डिप्रेशन का कारण बन सकता है.

Situational Melancholy: सिचुएशनल डिप्रेशन अन्य तरह के डिप्रेशन से कुछ हद तक अलग हो सकता है, लेकिन इसके लक्षण भी स्ट्रेस या तनाव पूर्ण ही होते हैं. सिचुएशनल डिप्रेशन को  क्लिनिकल डिसऑर्डर नहीं माना जाता है, क्योंकि ये एडजस्टमेंट डिसऑर्डर जैसा एक प्रकार ही है. सिचुएशनल डिप्रेशन जैसी स्थिति किसी व्यक्ति के जीवन में तब आती है, जब उसके साथ कोई अप्रिय घटना जैसे सीरियस एक्सीडेंट, लंबे समय की बीमारी या जीवन में कोई नकारात्मक बदलाव आया हो. ऐसे में व्यक्ति हर समय दुखी और परेशान रहने लगता है. लेकिन सबसे अच्छी बात है कि सिचुएशनल डिप्रेशन के लक्षणों को वक्त रहते पहचानकर उससे जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है. आइए सिचुएशनल डिप्रेशन के लक्षण, कारण और निवारण के विषय में जानते हैं,

ये भी पढ़ें: Pores and skin rejuvenation: दोबारा से जवान होने के लिए तेजी से बढ़ रहा है बायो रिमॉडलिंग का चलन, जानिए क्या है यह

सिचुएशनल डिप्रेशन के कारण :
वैरी वैल माइंड डॉट कॉम के मुताबिक सिचुएशनल डिप्रेशन मेजर डिप्रेसिव डिसऑर्डर से अलग होता है, क्योंकि ये कुछ समस्याओं पर आधारित होता है और जल्द ही ठीक हो सकता है. सामान्य तौर पर व्यक्ति सिचुएशनल डिप्रेशन का शिकार तब होता है, जब उसके जीवन में कोई बड़ा बदलाव या अप्रिय घटना घटित होती है. जैसे, किसी अपने को हमेशा के लिए खो देना, डाइवोर्स यानी तलाक हो जाना, इनकम सोर्स का खो जाना, लंबी चली आ रही  बीमारी, बेरोजगारी या फाइनेंशियल समस्याएं, किसी एक्सीडेंट का शिकार होना, घर परिवार स्कूल या काम में परेशानी होना आदि हो सकते हैं.

सिचुएशनल डिप्रेशन के लक्षण :
सिचुएशनल डिप्रेशन किसी भी स्ट्रेसफुल इवेंट के बाद लगभग 90 दिनों के अंतराल तक रह सकता है. हालांकि ये डिप्रेशन कम समय के लिए होता है, और ज्यादातर 6 महीने में ठीक हो सकता है.
सिचुएशन डिप्रेशन के लक्षण कुछ इस प्रकार हो सकते हैं –  हर समय मूड खराब होना और दुखी रहना, छोटी-छोटी बातों पर रोना, किसी तरह की कोई अच्छी उम्मीद ना होना, किसी भी चीज में कंसंट्रेट ना कर पाना, जीवन में मोटिवेशन की कमी महसूस करना, लोगों से बातचीत ना करना और हर समय अकेले रहना, मन में आत्महत्या के विचार आना आदि हो सकते हैं. 

ये भी पढ़ें: हेल्दी बालों के लिए महंगे प्रोडक्ट्स के बजाय अपनाएं ये नेचुरल होम रेमेडीज

सिचुएशनल डिप्रेशन से निकलने के उपाय :
सामान्य तौर पर सिचुएशनल डिप्रेशन अपने आप ठीक हो सकता है. लेकिन अगर आप अपने साथ हुई किसी दर्दनाक घटना के डिप्रेशन या तनाव से निकलने में परेशानी महसूस कर रहे हैं, तो ये उपाय आपके काम आ सकते हैं.
-अच्छा भोजन और हेल्दी डाइट फॉलो करें
-अपने रूटीन को ईमानदारी फॉलो करें
-एक्सरसाइज और मेडिटेशन करें
-अपनी पसंद की एक्टिविटीज में भाग लें
-अपने परिवार और दोस्तों के साथ अच्छा समय बताएं 

Tags: Well being, Life-style



Source link

Related Articles

Latest Articles

Top News