25.3 C
Varanasi
Saturday, September 18, 2021

Buy now

spot_img

how to corona virus affects diabetic patients | Health: समझिए, कैसे डायबिटीज के मरीज पर होता हैं कोरोना का असर

Facebook
Twitter
Pinterest
WhatsApp

[ad_1]

#, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक में  इस बार बैडमिंटन, टेबल टेनिस और टीटी में इन खिलाड़ियों का दम दिखाई देगा।

बैडमिंटन

पीवी सिंधु
भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु (PV Sindhu) से इस बार फैन्स गोल्ड मेडल की उम्मीद लगाए बैठे हैं। रियो ओलंपिक (Rio Olympic 2016)  में सिंधु गोल्ड से महज एक कदम दूर रह गईं थीं। रियो ओलंपिक 2016 (Rio Olympic 2016) के फाइनल में स्पेन की कैरोलिना मारिन (Carolina Marin) के खिलाफ उन्हें  हार का सामना करना पड़ा था। उम्मीद है कि उस हार को भुलाकर सिंधु इतिहास रचेंगी।

टोक्यो ओलंपिक में सिंधु अपने अभियान का आगाज इजराइल की खिलाड़ी (Israeli player) पोलिकारपोवा सेनिया (karpova senia) के खिलाफ करेंगी।

sandhu

बी साई प्रणीत
बी साई प्रणीत (B Sai Praneet) उस समय सुर्खियों में आए जब साल 2016 में प्रणीत ने ऑल इंग्लैंड ओपन (All England Open) में तीन बार के ओलंपिक रजत पदक विजेता ली चोंग वेई (Lee chong Wei) को हराकर दक्षिण एशियाई खेलों (South Asian Games) में स्वर्ण पदक और कनाडा ओपन (Canada Open) में अपना पहला ग्रां प्री (Grand Prix)  खिताब जीता था। 

बी साई प्रणीत (B Sai Prannet) को उम्मीद है कि भारतीय शटलर (Indian Shuttlers) इस बार मेडल लाकर ओलंपिक हैट्रिक पूरी करेंगे। इससे पहले 2012 में साइना ब्रॉन्ज तो वही 2016 मे पीवी सिंधू सिल्वर के साथ लगातार दो ओलंपिक में पदक ला चुके हैं। 

praneet

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी
सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी (Satwiksairaj Rankireddy) और चिराग शेट्टी (Chirag Sheety)  टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic 2016) के बैडमिंटन (Badminton) के डबल्स इवेंट (Double Event) में भारत के लिए पदक की दावेदारी पेश करेंगे।

टेबल टेनिस

मनिका बत्रा
भारत की शीर्ष टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा (Manika Batra) दूसरी बार ओलंपिक का हिस्सा बनने जा रही हैं। मनिका बत्रा (Manika Batra) महिला सिंगल (Women Singles) के अलावा अचंत शरत कमल (Sharat Kamal Achet) के साथ मिक्स्ड डबल्स (Mixed Doubles) में भी पदक के लिए चुनौती पेश करेंगी। मनिका बत्रा (Manika Batra) ने महज चार साल की उम्र में टेबल टेनिस (Table Tennis) खेलना शुरू कर दिया था,  2011 में चिली ओपन (Chile Open) के अंडर-19 (Under-19) कैटेगरी में रजत पदक जीतकर उन्होंने सुर्खियां बटोरीं थी। मनिका बत्रा (Manika Batra) ने 2018 के राष्ट्रमंडल खेलों (Commonwealth games 2018) में यादगार प्रदर्शन करते हुए दो स्वर्ण समेत चार पदक अपने नाम किये थे।

manika

अचंत शरत कमल
टेबल टेनिस खिलाड़ी शरत कमल (Sharath Kamal) चौथी बार ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने जा रहे है। वर्तमान समय में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (Indian Oil Corporation) में एक अधिकारी के रूप में कार्यरत शरत ने एथेंस में 2004 (Athens Olympic 2004), बीजिंग में 2008 (Beijing Olympic 2008) और रियो में 2016 ओलंपिक (Rio Olympic 2016) में भारत का प्रतिनिधित्व किया है।

उनके पिता श्रीनिवास राव और चाचा मुरलीधर राव भी टेबल टेनिस (Table Tennis) खेल चुके हैं। 15 साल की उम्र में शरत ने जीवन का सबसे अहम फैसला लिया, जहा उन्होंने  इंजीनियरिंग के बजाय टेबल टेनिस में करियर बनाने का फैसला किया और उनकी जिंदगी हमेशा के लिए बदल गई।

sharat

साथियान ज्ञानसेकरन
साथियान ज्ञानसेकरन (Sathiyan Gnanasekaran) ने 2016 में पुरुषों की व्यक्तिगत श्रेणी में ITTF चैलेंज बेल्जियम ओपन (ITTF Challenge Belgium Open)  खिताब जीतकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर धमाका किया था। तमिलनाडु के चेन्नई के रहने वाले 28 वर्षीय ज्ञानसेकरन ने कई टूर्नामेंटों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है और पदक हासिल किए हैं।

ज्ञानशेखरन ने उस समय सुर्खियां बटोरीं थी जब उन्होंने अपनी पहली उपस्थिति में ही  2018 गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth games 2018) में स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक जीता था।

sathiyan

सुतीर्था मुखर्जी
2015 में भारत की नंबर 1 टेबल टेनिस खिलाड़ी को 2016  रियो ओलंपिक से टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा उम्र रिकॉर्ड में हेराफेरी के लिए निलंबित कर दिया गया था। सुतीर्थ मुखर्जी (Sutirtha Mukherjee) ने 2020 टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olymoic 2020) के लिए क्वालीफाई कर यह सुनिश्चित कर दिया है कि वह खाली हाथ नहीं लौटेंगी। 

कोलकाता पश्चिम बंगाल की रहने वाली सुतीर्था ने अपनी वापसी पर सीनियर नेशनल टेबल टेनिस चैंपियनशिप (Senior Table Tennis Championship) जीतकर अपने आलोचको को करारा जवाब दिया था।

06

टेनिस

सानिया मिर्जा और अंकिता रैना
टेनिस में पदक का एकमात्र दारोमदार महिला डबल्स मे सानिया मिर्जा (Sania Mirza) और अंकिता रैना ()Ankita Raina  के कंधो पर होगा। सानिया मिर्जा (Sania Mirza) ने ओलंपिक के लिए प्रोटेक्टिव रैंकिग (Protective rank)  के तहत टोक्यो ओलंपिक 2020 (Tokyo Olympic 2020) के लिए क्वलिफाइ किया और बाद मे अंकिता रैना को अपना जोड़ीदार चुना।

sania

[ad_2]

Source link

Facebook
Twitter
Pinterest
WhatsApp

Related Articles

Stay Connected

3,500FansLike
3,000FollowersFollow
2,500SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles